चित्रकूट कांड: SATNA बाजार बंद, शिवराज सिंह मौन जुलूस में शामिल।

सतना। चित्रकूट में दो मासूम छात्रों के अपहरण और हत्या के बाद माहौल गर्मा गया है। भाजपा ने सतना बंद का आह्वान किया था जो पूरी तरह सफल नजर आया। सतना शहर सहित जिले के सभी बाजार बंद किए गए। विरोध स्वरूप मौन जुलूस निकाला गया जिसमें पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान भी शामिल हुए। 

रविवार रात पूर्व सीएम ने चित्रकूट के पीड़ित परिवारों से मुलाकात की थी। शिवराज सिंह ने मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग है। पूर्व सीएम ने कमलनाथ सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि जी खुद संभले और प्रदेश को संभाले। प्रदेश में अपराध की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। सरकार की प्रशासनिक अक्षमताएं सामने आ रही हैं।बता दें कि 12 फरवरी को सतना में एक स्कूल बस से दो बच्चों का अपहरण किया गया था। बच्चों का नाम देवांश और प्रियांश है। सूत्रों के मुताबिक, अपहरणकर्ताओं ने बच्चों के पिता से 50 लाख रुपये की फिरौती मांगी थी, जिसके बाद पिता ने उन्हें 20 लाख रुपये दे भी दिया था, फिर भी अपहरणकर्ताओं ने बच्चों की हत्या कर दी। पुलिस अपहरकर्ताओं से बच्चों को मुक्त नहीं करा पाई जबकि जनता से भड़कते ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।