अगर आपका इकलौता बच्चा भी हो गया है जिद्दी, तो ऐसे लाएं ट्रैक पर!

अगर आप भी इकलौते बच्चे के माता-पिता हैं तो ये खबर आपको जरूर पढ़नी चाहिए। देखा जाता है कि इकलौते बच्चे या तो काफी रिजर्व होते हैं या शर्मीले स्वाभाव के होते हैं। वहीं दूसरी ओर कुछ बच्चों का स्वभाव बिल्कुल विपरीत होता है यानी कि कुछ ज्यादा ही चंचल या एक्टिव होते हैं। बहरहाल स्वभाव शांत हो या चंचल उसको मैनेज किया जा सकता है लेकिन अगर बच्चा जिद्दी हो तो संभालना मुश्किल होता है। ऐसे में हम कुछ टिप्स बताने जा रहे हैं जो जिद्दी बच्चों के माता पिता को जरूर अपनाने चाहिए। 

जिम्मेदारी सिखाएं 
इकलौते बच्चे को प्यार के साथ जिम्मेदारियों का एहसास भी कराएं। बच्चे को छोटी-छोटी जिम्मेदारियां दें और कुछ मसलों पर उसकी राय भी जानें ताकि उसे महसूस हो कि वह आपके लिए महत्वपूर्ण है। इससे बच्चे को चीजों के महत्त्व का एहसास होगा। जब बच्चा जिद करे तो उसके साथ नम्रता से पेश आएं। 

संवेदनशील बनाएं 
इकलौते बच्चे के माता-पिता उन्हें इमोशंस के विषय में सिखाएं। हेल्दी डिस्कशन करके उन्हें संवेदनशील इंसान बनाया जा सकता है। उनकी भावनाओं को पहचानें और उसके मुताबिक प्रतिक्रया दें। बच्चे के मन में कोई बात दबी न रहने दें। उसे बोलने का अवसर दें और उन्हें ध्यान से सुनें।  

हर मांग ना करें पूरी 
इकलौते बच्चे अक्सर जिद्दी होते हैं। उन्हें हमेशा सब कुछ एक मांग पर चाहिए होता है और कई बार उनकी मांग पूरी भी कर दी जाती है। माता-पिता हर मांग पूरी ना करें। उन्हें पैसों की कीमत समझाएं और हर परिस्थिति में रहना सिखाएं।