Paytm: यह है एफडी पर 8% ब्याज वाली योजना का रहस्य!

2018-10-26 11:44:28

Paytm पेमेंट बैंक ने एक ऐलान किया है। Paytm पेमेंट बैंक के माध्यम से आप फिक्स्ड डिपॉजिट या एफडी FD जिसे टर्म डिपॉजिट या टाइम डिपॉजिट भी कहते हैं, खोल सकते हैं। यदि आप ऐसा करते हैं तो आपको 8% ब्याज दिया जाएगा। दरअसल, इसके पीछे Paytm की अपनी एक रणनीति है। असल में यह स्कीम ऐसी नहीं है। इसे कुछ इस तरह से कहना चाहिए कि यदि आपके Paytm अकाउंट में 1 लाख रुपए से ज्यादा हैं तो 1 लाख रुपए से अधिक वाली रकम अपने आप एफडी में कंवर्ट हो जाएगी और उस पर आपको 8% ब्याज मिलेगा। यानि 8% ब्याज के लालच में आपको अपना 1 लाख रुपए पेमेंट बैंक में फंसाकर रखना होगा। 

Paytm को एफडी जारी करने का अधिकार ही नहीं

इससे पहले की आपको इस फ‍िक्स डिपोजिट के बारे में बताएं। यह जान लेना जरूरी है कि पेटीएम एक पेमेंट्स बैंक है। 

इसलिए नियमों के मुताबिक यह एफडी की सेवा मुहैया नहीं कर सकता है। 

इस नियम को ध्यान में रखते हुए पेटीएम ने इंडसइंड बैंक के साथ करार किया है। 

यानि की आप पेटीएम की मदद से इंडसइंड बैंक मेें एफडी कर सकते हैं, लेकिन इंडसइंड बैंक में आपको अकाउंट खोलने की जरूरत नहीं पड़ेगी। 

इंडसइंड बैंक के नियम लागू होंगे

ज्यादातर एफडी को जब आप तोड़ते हैं, तो आप से प्रीमैच्योर व‍िद्ड्रॉअल के लिए चार्ज भी वसूला जाता है लेक‍िन इस एफडी के मामले में ऐसा नहीं है। अगर आप इस एफडी को मैच्योरिटी से पहले रिडीम करते हैं, तो आप से कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा। हालांकि अगर आप 7 दिन से भी कम दिन में इसे तोड़ते हैं, तो तब आपको कोई ब्याज नहीं मिलेगा।

ब्याज दर बदलती रहेगी

पेटीएम ने कहा है कि वह जब भी इंडसइंड बैंक के साथ आपकी खातिर एफडी बुक करेगा, तो जिस भी श्रेणी में ज्यादा ब्याज मिल रहा होगा, उसी में इसे रजिस्टर किया जाएगा। फिलहाल इंडसइंड बैंक की तरफ से 8 फीसदी सबसे ज्यादा ब्याज दिया जा रहा है। इसलिए एफडी इस ब्याज दर पर खोली जा रही है।

यह शर्त पेटीएम के लिए फायदेमंद और खाताधारक के लिए नुक्सानदायक

पेटीएम के मुताबिक अगर आपका पेटीएम पेमेंट्स बैंक में बैलेंस 1 लाख रुपये से ज्यादा जाता है, तो पेटीएम एक लाख के अलावा जितनी भी रकम है, उसे एफडी में बदल देगा। हालांकि आप स्वेच्छा से इस एफडी को खोलना चाहते हैं, तो फिलहाल इसका विकल्प पेटीएम ऐप पर नहीं दिया गया है।


Responses


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /home/justneemuch/public_html/description.php on line 378

Leave your comment