ऑपरेशन शिकंजा, 29 वर्ष पुराना 02 हजार रूपयें का ईनामी फरार आरोपी परसराम उर्फ रामप्रसाद गिरफ्तार, पहचान छिपाने साधु का वेश धारण किया, रामपुरा पुलिस को मिली कामयाबी!

2018-11-05 05:19:54

 

नीमच ! पुलिस अधीक्षक श्री तुषारकान्त विद्यार्थी द्वारा जून 2017 से माद्क द्रव्य पदार्थो की तस्करी रोकने तथा चोरी, नकबजनी के अपराधों एवं अन्य प्रकरणों में फरार आरोपियों को पकड़ने हेतु ‘‘आॅपरेशन शिकंजा‘‘ गया। इस अभियान के तहत प्रथम चरण में वर्ष 2017 में कुल 103 एवं जनवरी 2018 से वर्तमान तक कुल 158 फरार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। 

पुलिस अधीक्षक श्री तुषारकान्त विद्यार्थी के निर्देशन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र सिंह पंवार,ं नगर पुलिस अधीक्षक श्री नरेन्द्र सौलंकी, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस जावद श्री टी.सी.पंवार, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस मनासा श्री आर.सी.भाकर के मार्गदर्शन में फरार आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान आॅपरेशन शिकंजा के तहत् जिलें के समस्त थाना प्रभारियों द्वारा फरार आरोपियों की धरपकड़ जारी है। 

थाना प्रभारी रामपुरा के नेतृत्व में पुलिस थाना रामपुरा टीम द्वारा मुखबिर सूचना पर से थाना रामपुरा के अपराध क्रमांक 138/1989 धारा 354 भादवि में पिछ्ले 29 साल से फरार चल रहे आरोपी स्थाई वारन्टी परसराम उर्फ रामप्रसाद पिता कान्हा मेघवाल उम्र 65 साल निवासी ग्राम बरड़िया थाना रामपुरा को ग्राम सगोरिया थाना शामगढ़ जिला मंदसौर से गिरफ्तार किया। 

 रामपुरा पुलिस द्वारा वारन्टी परसराम उर्फ रामप्रसाद पिता कान्हा मेघवाल की तलाश में कई बार अलग अलग स्थानों पर दबिशें भी दी गई। फरार वारंटी परसराम उर्फ रामप्रसाद द्वारा गिरफ्तारी से बचने के लिए अपना पैतृक गांव छोड़ पहचान छिपाने के लिए साधु का वेश धारण कर लिया था। 

सराहानीय भूमिका:- उक्त कार्यवाही मे थाना प्रभारी रामपुरा निरीक्षक प्रतीक रॉय,,प्रधान आरक्षक मनोज यादव, आरक्षक विक्रमसिंह चैहान , आरक्षक राजवीरसिंह भदौरिया की महत्त्वपुर्ण भुमिका रही।  


Responses


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /home/justneemuch/public_html/description.php on line 378

Leave your comment