वास्तु टिप्सः किराए के घर में रहते हैं या एक से अधिक मकान है तो इन बातों को जान लीजिए, फायदे में रहेंगे!

2018-11-09 11:06:21

कई लोग, पत्र-पत्रिकाएं, इंटरनेट और बिल्डर्स घर के बारे में बताते हुए अक्सर वास्तु का जिक्र करते हैं। जब हम घर बनवाते हैं यह खरीदते हैं तब और जब घर में परेशानियां आने लगती हैं तब इस विज्ञान के बारे में कई तरह की जिज्ञासाएं मन में उठती है और कई बार इन सवालों के जवाब समय पर नहीं मिल पाते। आइए जानें वास्तु से जुड़े ऐसे सवालों के जवाब जिनके बारे में आप अक्सर जानना चाहते हैं बता रहे हैं वास्तुगुरु कुलदीप सालूजा…

 

सवाल: अगर किसी व्यक्ति के पास एक से अधिक संपत्ति हैं तो उस पर वास्तु का प्रभाव कैसे पड़ेगा?

उत्तर: जिस घर का उपयोग व्यकित अपने रहने और व्यवसाय के लिए अधिक करता है, उसके वास्तु का प्रभाव उसके जीवन पर पड़ता है। ऐसा नहीं है कि उसके सभी घरों का प्रभाव उसके ऊपर होगा।

 

सवाल: किराए पर दिए गए भवन के वास्तु का प्रभाव किस पर पड़ता है, मालिक पर या किराएदार पर?

उत्तर: जो व्यक्ति भवन का उपयोग कर रहा हो, उसके वास्तु का प्रभाव उसी पर पड़ता है। यानी किराएदार के ऊपर ही मकान के वास्तु का प्रभाव होगा मालिक पर नहीं।

सवाल: वास्तुशास्त्र और चीनी वास्तुशास्त्र फेंगशुई में क्या समानता है?

उत्तर: जैसे, आयुर्वेद, होम्योपैथी, ऐलोपैथी, यूनानी जैसी सभी चिकित्सा पद्धतियों का उद्देश्य मनुष्य की बीमारियों को ठीक करना है,उसी प्रकार वास्तुशास्त्र और फेंगशुई दोनों का काम किसी भवन के आकार, अनुपात, दिशा तथा वातावरण के आधार पर सामंजस्य बनाए रखना है।

सवाल: क्या वास्तुशास्त्र के सिंद्धांत केवल भारत में और फेंगशुई के सिद्धांत केवल चीन में लागू होते हैं?

उत्तर: नहीं। वास्तुशास्त्र और फेंगशुई दोनों के ही सिद्धांत समूचे विश्व में लागू होते हैं। ये दोनों ही शास्त्र सूर्य की किरणों और पृथ्वी के मैग्नेटिक पॉवर पर आधारित हैं।

सवाल: क्या वास्तुशास्त्र और फेंगशुई का एक साथ उपयोग किया जा सकता है?

उत्तर: हां, वास्तुशास्त्र और फेंगशुई का एक साथ उपयोग करना बहुत अधिक लाभदायक रहता है। बस, इस बात का ध्यान रखें कि जानकारी संपूर्ण और सही हो।

सवाल: क्या फेंगशुई से भी वास्तुदोष दूर किए जा सकते हैं?

उत्तर: फेंगशुई का सिद्धांत है कि जहां समस्या है, वहां समाधान भी है। किन्तु छोटे-छोटे वास्तुदोष निवारण में ही फेंगशुई की उपयोगिता ज्यादा है। बड़े वास्तुदोष के लिए वास्तुशास्त्र के सिद्धांतों का उपयोग अधिक कारगर होता है।

सवाल: यदि कोई युवा घर से दूर रहकर पढ़ाई कर रहा हो तो क्या उसके घर के वास्तुदोष का असर उसके करियर पर पड़ेगा?

उत्तर: नहीं। दूसरे शहर में वह जिस कमरे या घर में रहकर अध्ययन कर रहा है, उस घर के वास्तु का प्रभाव उसके करियर को प्रभावित करेगा।

सवाल: यदि किसी व्यवसायी के एक से अधिक व्यवसायिक स्थल हों तो उसे वास्तु किस प्रकार प्रभावित करेगा?

उत्तर: जो व्यवसायिक स्थल वास्तु के अनुरूप होगा, वह मालिक को अधिक आर्थिक लाभ देगा। वहीं, जो स्थल वास्तुनुकूल नहीं होगा, वहां आर्थिक हानि का सामना करना पड़ेगा।


Responses


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /home/justneemuch/public_html/description.php on line 378

Leave your comment