मकर संक्रांति के बाद भी पड़ेगी कड़ाके की ठंड, ये है कारण!

2019-01-12 02:57:33

मध्य प्रदेश में मकर संक्रांति के बाद इस बार लोगों को तीखी ठंड से दो चार होना पड़ेगा. मौसम विभाग का अनुमान है कि मकर संक्रांति के बाद भी इस बार ठंड का असर बरकरार रहेगा. पहाड़ी इलाकों में रही बर्फबारी का ही ये असर है.

दरअसल, अभी हवाओं का रुख उत्तरी बना हुआ है तो बर्फीली हवा लोगों को कंपा रही है. आंकड़ो की बात करें तो 6 साल बाद नए साल के दिन सबसे ठंडे रहे. इसके पहले साल 2013 में इतनी ठंड देखने को मिली थी जब 10 दिनों का औसत तापमान 7.6 था. वहीं इस साल शुरु के 10 दिन का औसत न्यूनतम तापमान 8.3 डिग्री रहा है.

पिछले 6 सालों में 1 से 10 जनवरी तक रात का औसत तापमान


2013- 7.6 डिग्री
2014- 13.2 डिग्री
2015- 10.1 डिग्री
2016- 12.4 डिग्री
2017- 11 डिग्री
2018- 9.9 डिग्री
2019- 8.3 डिग्री

वहीं मध्य प्रदेश के 16 जिलों में तापमान 7 डिग्री से नीचे है. शुक्रवार को खजुराहो और नौगांव में ठंड ने काफी परेशान किया. वहां तापमान सामान्य से 7 डिग्री कम 3 डिग्री सेल्सियस पहुंचा. भोपाल का न्यूनतम तापमान 8.8 डिग्री रहा जबकि जबलपुर 7.5 डिग्री, इंदौर 9.8 डिग्री और ग्वालियर में 4.4 डिग्री रहा.


Responses


Warning: Invalid argument supplied for foreach() in /home/justneemuch/public_html/description.php on line 378

Leave your comment