नीमच पुलिस ने बडी मात्रा में मादक पदार्थों की खेप पकडी, दो कार्रवाई में 3 गिरफ्तार, 5 नामजद!  

नीमच। मादक पदार्थों की तस्करी के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत नीमच पुलिस को बडी कामयाबी मिली है। दो कार्रवाइयों में पुलिस ने 22 किलो से अधिक अफीम और करीब साढे तीन क्विंटल डोडा चूरा बरामदकर तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। दोनो प्रकरणों में पांच अन्य आरोपियों को भी नामजद किया गया है जिनकी गिरफ्तारी के लिए टीमें भेजी गई है। 

एसपी राकेशकुमार सगर ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर सरवानिया चैकी पुलिस टीम ने डिकेन-मोरवन आम रास्ते पर घेराबंदी कर एक बिना नंबर की बाइक को रोका। बाइक पर दो व्यक्ति सवार थे। तलाशी में आरोपियों के पास से मिले बेग में तीन पाॅलिथिन में भरी 22 किलो 200 ग्राम अफीम मिली। मौके से आरोपी संजय पिता राधेश्याम धाकड और घीसालाल पिता मोहनलाल धाकड निवासी चैकडी थाना मनासा को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों से की गई पूछताछ में उन्होने बताया कि यह अफीम प्रकाश पिता लाभचंद धाकड निवासी कंजार्डा, शंकर पिता जडावचंद धाकड और गोपाल पिता बद्रीलाल बंजारा से एकत्रित की गई थी। 

चिन्हित मामलों में शामिल किया-

चूंकि 22 किलो से अधिक अफीम की खेप बरामद होना गंभीर मामला है क्योंकि इतनी तादाद में अफीम दो चार व्यक्तियों से कहीं अधिक लोगों से एकत्रित की गई होगी, इस आशंका के आधार पर पुलिस ने आरोपियों के मोबाइल की काॅल डिटेल निकलवाई है। इसके अलावा कुछ संदिग्ध व्यक्तियों के नंबरों पर भी साइबर सेल को सर्चिंग के लिए लगाया गया है।; एसपी ने बताया कि इस मामले में और भी आरोपी सामने आने की उम्मीद है। अफीम कहां ले जाई जा रही थी उसके बारे में भी पता लगाया जा रहा है। 

कार्रवाई में जावद एसडीओपी टीसी पंवार, चैकी प्रभारी सुनील जाटव सहित टीम की भूमिका रही। 

विशेष चंेबर में छुपाकर ले जाया जा रहा था डोडा चूरा-

एक अन्य कार्रवाई में रतनगढ़ थाना अंतर्गत डीकेन चैकी पुलिस टीम ने सिंगोली रोड पर एक मिनि ट्रक आरजे 14 जीडी 7727 को रोककर तलाशी ली तो मिनि ट्रक के नीचे हाइड्रोलिक लगाकर अलग चैंबर बनाया गया था। जिसमें 14 प्लास्टिक के कट्टों में 350 किलो डोडा चूरा भरा हुआ था। पुलिस ने ट्रक चालक पप्पाराम पिता काचबराम निवासी विश्नोइयों की ढाणी, लुणावास खारा जिला जोधपुर राजस्थान को गिरफ्तार किया गया। इस मामले मंे पता किया जा रहा है कि डोडा चूरा कहां से भरा गया था और कहां ले जाया जा रहा था। 

कार्रवाई में डीकेन चैकी प्रभारी रामपालसिंह एवं टीम की भूमिका रही।