नगरपालिका परिषद बैठक में हंगामा, करोड़ो की सीवरेज लाईन से जनता को असुविधा

नीमच। नगरपालिका ने करोड़ो रूपए की लागत से शहर में सीवरेज लाईन बिछाई थी। जिसमें नपा के जिम्मेदार अधिकारियों ने टेंडर को नियमों को एक साइड करके कामकाज में लापरवाही की। इसी कारण से शहर की जनता को अच्छी-खासी मुसिबतों का सामना करना पड़ रहा है। 
नीमच शहर को गंदे पानी से मुक्त किये जाने को लेकर ६५ करोड़ की सीवरेज लाईन डाली जा रही है लेकिन यही सीवरेज लाईन  शहर की जनता को राहत देने के बजाय मुश्किलों में डाल रही है इसका कारण सीवरेज लाईन को लेकर खोदे गए गड्डो को कॉट्रेक्टर ने सही तरीके से भरा नहीं है और वे अब बारिश में कीचड़ में तब्दील होकर आमजनो के लिए बड़ी परेशानिया पैदा कर रहे है जबकि सीवरेज के टेंडर में साफतौर पर लिखा हुवा है की जहा सीवरेज के लिए लाईन खोदी जाएगी वह अगर सड़क है तो उसे फिर से बनाना है लेकिन यहाँ कॉन्ट्रेक्टर ने नगर पालिका के लोगो से मिलीभगत कर कही भी सड़क को फिर से नहीं बनाया और उसे मिट्टी से ही भर दिया जोकि अब लोगो के लिए मुसीबत साबित हो रहे है 
६५ करोड़ की सीवरेज योजना के तहत नीमच शहर में खोदी गई लाईने को फिर से पहले की ही तरह से न बनाया जाना इस योजना में भारी भर्ष्टाचार की और इशारा कर रहा है इसे लेकर विपक्षी पार्षदों द्वारा भारी परिषद् में योजना में भ्रष्टाचार के चलते नियम कायदो का पालन नहीं किये जाने के आरोप लगते हुवे मामले को उठाया भी गया लेकिन जिम्मेदार कॉन्ट्रेक्टर पर डाल अपनी जम्मेदारियों से पल्ला झाड़ने में लगे है